ऑनलाइन निवेश

क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है?

क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है?
अनुमान बताते हैं कि भारत में 1948-49 के दौरान लगभग 27.36 टन स्वर्ण की तस्करी होती थी. यह बढ़ कर 1950-51 में 35.35 टन और 1952-53 में 53.27 टन हो गयी. किन्तु 1955-56 में तस्करी में 50 प्रतिशत से ज्यादा की कमी हुयी तो और घटकर 26.27 टन हो गया. लेकिन यह गिरावट बस थोड़े समय के लिए थी. 1958 और 1963 के बीच लगभग 520 टन स्वर्ण अनाधिकारिक रूप से आयात किया क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? गया. स्वर्ण से बढ़िया और हो भी क्या सकता था.

आजादी के बाद के प्रथम दसक में भारत की स्वर्ण नीति

1947 में भारत की विदेशी मुद्रा भण्डार लगभग 2 मिलियन पौंड का था. 1947 क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? से 1962 तक भारत में नीति स्वर्ण बाज़ार पर नियंत्रण की दिशा में निर्देशित रही. 25 मार्च 1947 को आयात और निर्यात (नियंत्रण) अधिनियम लागू किया गया. 1947 में ही सरकार ने नियंत्रण का एक और क़ानून, विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम लागू किया. लेकिन स्वर्ण की मांग काफी ज्यादा थी, जिसके कारण अवैध पारगमन और तस्करी बढ़ने लगी.

भारतीय सरकार ने स्वर्ण आयातों पर प्रतिबन्ध लगा दिया और एक नयी लाइसेंसिंग व्यवस्था लागू की. दोनों में से किसी का भी वांछित असर नहीं हुआ और तस्करी और भी ज्यादा बढ़ गयी. 1947 में स्वर्ण की कीमत 88 रुपये 62 पैसे प्रति 10 ग्राम थी. प्रतिबन्ध की घोषणा के बाद कीमत में कोई कमी नहीं हुयी. 1949 में यह कीमत बढ़ कर 95 रुपये 87 पैसे हो गयी, लेकिन 1955 में गिर कर 79 रुपये 18 पैसे पर आ गयी.

सफेदपोशों के काले खजाने में छुपी क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? है देश की सम्पत्ति

देश में काले धन और घोटालों को लेकर क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? ईडी की छापा मारी तेजी से चल रही है। शिवसेना के कद्दावर नेता और सामना के संपादक संजय राउत के घर पर ईडी ने दविश दी। संजय राउत पर 1000 करोड से ज्यादा के पात्रा चाल जमीन घोटाला मामले की जांच में सहयोग न करने का आरोप लगाया गया है।

इस संदर्भ में संस्था ने उन्हें विगत 27 जुलाई को तलब किया था परन्तु वे उपस्थित नहीं हुए थे। इस दविश के दौरान उनके खास लोगों ने भीड की शक्ल में इकट्ठा होकर खासा हंगामा किया।

यह मामला मुम्बई के गोरेगांव की पात्रा चाल से जुडा है जो कि महाराष्ट्र हाउसिंग एण्ड एरिया डेवेलपमेन्ट अथारिटी के अधिपत्य का भूखण्ड है। जब सन् 2020 में महाराष्ट्र के पीएमसी बैंक घोटाले की जांच चल रही थी तब क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? प्रवीण राउत की कंस्ट्रक्शन कम्पनी का नाम उजागर हुआ था जिसमें बिल्डर की पत्नी के बैंक खाते से संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को 55 लाख रुपये का कर्ज देने के दस्तावेज मिले थे। आरोप है कि संजय राउत ने इसी पैसे से दादर में एक फ्लैट खरीदा था।

विदेशी मुद्रा भंडार 58.7 करोड़ डॉलर घटकर 635.08 अरब डॉलर पर

मुंबईः देश का विदेशी मुद्रा भंडार 24 दिसंबर को समाप्त सप्ताह में 58.7 करोड़ डॉलर घटकर 635.08 अरब डॉलर पर आ गया जबकि इसके पिछले सप्ताह यह 16 करोड़ डॉलर कम होकर 635.66 अरब डॉलर रहा था। रिजर्व बैंक की ओर से जारी साप्ताहिक आंकड़े के अनुसार, 24 दिसंबर को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति 84.7 करोड़ डॉलर घटकर 573.36 क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? अरब डॉलर रह गया। इसी तरह इस दौरान स्वर्ण भंडार 20.7 करोड़ डॉलर बढ़कर 39.39 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

आलोच्य सप्ताह विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) 2.4 करोड़ डॉलर बढ़कर 19.11 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इसी तरह अंतररष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के पास आरक्षित निधि 2.8 करोड़ डॉलर चढ़कर 5.2 अरब डॉलर पर रहा।

विदेश मंत्रालय ने नौकरी के लिए अवैध तरीके से विदेश भेजे गए 364 लोगों को छुड़ाया

नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय (foreign Ministry) ने गुरुवार को कहा कि नौकरी के लिए अवैध तरीके से म्यांमार, लाओस और कंबोडिया (Illegally sent to Myanmar, Laos and Cambodia) भेजे गए 350 से अधिक लोगों को अब तक छुड़ाया गया है। इनमें से म्यांमार से 200, कंबोडिया से 100 तथा लाओस से 64 लोगों को मुक्त कराया गया। काफी लोग स्वदेश लौट चुके हैं जबकि शेष लौटने की प्रक्रिया में हैं।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची (Arindam Bagchi) ने साप्ताहिक प्रेस वार्ता के दौरान यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि म्यांमार में सबसे ज्यादा लोग थे जिनमें से 200 से अधिक लोगों को मुक्त कराया गया। इनमें से 153 लोग भारत लौट चुके हैं और कुछ लोग अभी थाइलैंड की हिरासत में हैं। उन्हें वापस लाने के लिए भारत का दूतावास कार्य कर रहा है। इसी प्रकार कंबोडिया और लाओस में भी यह प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने कहा कि म्यांमार में कुछ और लोग हो सकते हैं जिनके लिए प्रयास जारी हैं।

यह भी पढ़ें | नौकरी देने में भारत का रक्षा विभाग पूरी क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? दुनिया में अव्वल, अमेरिका और चीन भी पीछे

लोगों को आगाह किया
बागची ने लोगों से रोजगार के लिए अवैध तरीके से विदेश भेजने वालों से फिर आगाह किया है। दरअसल, कई एजेंसिया लोगों को अराइवल वीजा पर थाइलैंड भेजती हैं और वहां से वे लोग कंबोडिया, लाओस व म्यांमार जाते हैं। उन्होंने कहा कि वीजा आन अराइवल सिर्फ पर्यटकों के लिए होता है। अगर कोई एजेंसी रोजगार के लिए किसी को थाइलैंड ले जाएगी तो इसके लिए अलग से वीजा लगाना होता है। रोजगार के लिए कोई भी अराइवल वीजा पर नहीं जा सकता।

8 भारतीयों का मसला कतर के समक्ष उठाया
विदेश मंत्रालय ने कहा कि कतर में भारतीय नौसेना के 8 पूर्व कर्मियों को हिरासत में लिए जाने के मामले को वहां के प्रशासन के समक्ष लगातार उठाया गया है। हिरासत में बंद इन लोगों तक अधिक राजनयिक पहुंच उपलब्ध कराने के लिए प्रयास जारी है। मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘हम इस मामले पर बहुत करीब से नजर रखे हुए हैं। दोहा में हमारा दूतावास स्थानीय अधिकारियों के नियमित संपर्क में है। मंत्रालय और राजनयिक पहुंच उपलब्ध क्या विदेशी मुद्रा खरीदना अवैध है? कराने की मांग कर रहा है और इस बारे में अधिक जानकारी मिलने पर बताएंगे।’

आपके शहर से (जयपुर)

Ande Ka Funda: क्‍या आपने चखा है 'ऑमेलट अंकल' के ठेले की ऑमलेट का स्‍वाद? देखते ही मुंह में आ जाएगा पानी

Top 10 Breaking | Top Headline | 10 बड़ी खबर | Hindi News | Breaking News | Hindi Speed News

Rajasthan Super 100 | Top News Headlines | Aaj Ki Taaza Khabrein | Top Hindi News | Rajasthan News

Trains Cancel: आप रेलयात्रा कर रहे हैं? यहां जान लें कहीं रद्द ट्रेनों की सूची में तो नहीं है आपकी ट्रेन!

राजस्थान में फॉरेस्ट गार्ड की नौकरी के लिए किया है आवेदन तो जानें कब है एग्जाम

Khabar 2 Pahar | देखिए दोपहर की बड़ी खबरें | Top Afternoon Headlines of Rajasthan | Latest News

30 Minute 33 District | Rajasthan के 33 जिले की बड़ी खबरें | Top News Headlines | News 18 Rajasthan

चूरू: भाई-बहन का ये अटूट प्यार न देखा तो फिर क्या देखा, बहन को पीठ पर लादकर पहुंचाता है कॉलेज- See Video

रेटिंग: 4.51
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 490
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *