क्रिप्टोक्यूरेंसी निवेश

निवेश स्थल

निवेश स्थल
विदेशी निवेश की इतनी विशाल मात्रा एक बड़ी सफलता की कहानी कहती है जो यह दर्शाती है कि ब्रिटेन व्यवसाय करने की मुफीद जगह है और इससे यह बात भी प्रमाणित हो जाती है कि हमारी दीर्घकालीन आर्थिक योजना काम कर रही है। विदेशों से निवेश स्थल निवेश हासिल करना हजारों रोजगार के अवसर पैदा करने, संपूर्ण ब्रिटेन में लोगों के काम करने हेतु सुरक्षा और अवसर मुहैया करने के निवेश स्थल हमारे ‘एक राष्ट्र’ की नीतियों का अहम हिस्सा है।

निवेश स्थल

बसाहटों के नियोजन के प्रति,प्रतिबद्धता के रूप में प्रदेश के नगर तथा ग्राम निवेश संचालनालय द्वारा मध्यप्रदेश नगर तथा ग्राम निवेश अधिनियम 1973 के प्रावधानों तथा इसके अंतर्गत बनाये गये म.प्र. नगर तथा ग्राम निवेश नियम 2012 एवं मध्यप्रदेश भूमि विकास नियम 2012 के अन्तर्गत क्षेत्रीय एवं नगरों के नियोजन का कार्य किया जाता है। संचालनालय का क्षेत्राधिकार संपूर्ण मध्यप्रदेश है ।

1. नगरों के निवेश क्षेत्रों की विकास योजनायें बनाना ।
2. विकास योजनाओं का पुनर्विलोकन, मूल्यांकन एवं उपान्तरण करना ।
3. गठित निवेश प्रदेशों की प्रादेशिक योजनायें बनाना ।
4. विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में मार्गदर्शन
5. नगरों के अप्राधिकृत विकास पर नियंत्रण (प्रवर्तन)
6. विकास प्राधिकरण/विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण/गृह निर्माण मण्डल एवं अन्य विकास संस्थाओं को परियोजना तैयार करने में मार्गदर्शन ।
7. राज्य शासन एवं अन्य संस्थाओं को नये नगरों एवं औद्योगिक विकास केन्द्रों के व्यवस्थापन, भूमि नियोजन,स्थल चयन आदि में मार्गदर्शन एवं सहयोग ।
8. राज्य शासन को भूमि विकास एवं प्रबंधन संबंधी नीतियों के निर्धारण में सहयोग।
9. नेशनल अर्बन इन्फार्मेशन सिस्टम की स्टेट नोडल एजेन्सी के कार्य दायित्व ।

निवेश स्थल

23 अक्टूबर (भाषा) जम्मू-कश्मीर में 10

जम्मू-कश्मीर प्रशासन के आधिकारिक प्रवक्ता ने रविवार को कहा, ‘‘आजादी के बाद से जम्मू और कश्मीर को केवल 14,000 करोड़ रुपये का निजी निवेश प्राप्त हुआ था। हालांकि नई औद्योगिक विकास योजना की शुरुआत और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा व्यक्तिगत रूचि लेने के बाद केंद्रशासित प्रदेश को लगभग एक वर्ष में 56,000 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं।’’

प्रवक्ता ने कहा कि बड़ी संख्या में देश-विदेश की निजी कंपनियां जम्मू-कश्मीर में निवेश कर रही हैं। रियल एस्टेट सम्मेलन के दौरान कई बिल्डरों ने भी यहां निवेश में गहरी दिलचस्पी दिखाई है।

पीयूष गोयल बोले- भारत निवेश का है भंडार. इस स्थल को आप नहीं छोड़ सकते, अरबों आकांक्षाओं का बाजार

पीयूष गोयल बोले- भारत निवेश का है भंडार. इस स्थल को आप नहीं छोड़ सकते, अरबों आकांक्षाओं का बाजार

देश के वाणिज्य एंव अघोग मंत्री पीयूष गोयल ने मंगलवार को भारत को सर्वश्रेष्ठ बताते हुए स्पष्ट किया कि भारत और अमेरिका के बीच कई सालों से गहरे संबध स्थापित हो चुके है और दोनों देशो के शीर्ष नेताओं ने कई बार द्वपक्षीय वार्तालाप करके एक मिसाल साबित की थी । हालांकि, गोयल ने कहा कि भारत और अमेरिका के पारस्परिक हितों के क्षेत्रों में सहयोग और सरोकार के लिए उपयुक्त समय है।

श्री पीयूष गोयल ने निर्यातकों के प्रदर्शन और लचीलेपन को सराहा, साथ ही उन्होने कहा कि अधिकांश क्षेत्रों में निर्यात की भरपूर संभावनाएं हैं .

यूरोप में ब्रिटेन सर्वोत्तम निवेश स्थल

UK is top investment destination in Europe

2014/15 के वित्त वर्ष में यूके ट्रेड एंड इनवेस्टमेंट (यूकेटीआई) के वार्षिक निवेश संबंधी आंकड़े दर्शाते हैं कि ब्रिटेन ने 1,988 एफडीआई परियोजनाएं हासिल कीं, जो वर्ष 2013/14 की तुलना में 12 प्रतिशत अधिक है, और अनुमान है कि इन निवेशों के साथ ब्रिटेन में 85,000 नई नौकरियां और 23,000 सुरक्षित रोजगार का सृजन हुआ।

2014 में ब्रिटेन के मजबूत प्रदर्शन के कारण देश में आंतरिक एफडीआई भंडार – ब्रिटेन में संचित एफडीआई का मूल्य – 10 खरब पाउंड के स्तर को पहली बार पार कर गया। यह यूरोप में सर्वाधिक है और सं.रा. और चीन के बाद दुनिया में दूसरा निवेश स्थल है।

प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा:

आगे की जानकारी:

यूकेटीआई आंतरिक निवेश की सम्पूर्ण रिपोर्ट यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

ब्रिटेन में निवेश करने वाले सर्वोच्च 20 देश हैं:

यूकेटीआई विलय और अधिग्रहण सहित व्यापक प्रकार की आंतरिक निवेश परियोजनाओं तथा उन परियोजानाओं जिनकी घोषणा विदेशी निवेशकों द्वारा सार्वजनिक रूप से नहीं की जाती है, का रिकॉर्ड रखता है। इस प्रकार, यूकेटीआई द्वारा प्रस्तुत एफडीआई परियोजनाओं के आंकड़े ईवाय और एफटी जैसे बाहरी संगठनों के आंकड़ों से भिन्न होते हैं जो एफडीआई प्रवाह पर प्रमुख रूप से निवेश घोषणाओं के आधार पर नजर रखते हैं। ये बाहरी संगठन कैलेंडर वर्ष के आधार पर रिपोर्ट पेश करते हैं जबकि यूकेटीआई द्वारा वित्तीय वर्ष का अनुसरण किया जाता है।

यूकेटीआई एक सरकारी विभाग है जो ब्रिटिश कंपनी को वैश्विक अर्थव्यवस्था में सफल होने में सहायता करता है। हम बाहर की कंपनियों को भी ब्रिटिश अर्थव्यवस्था में- जिसे वैश्विक व्यवसाय में सफलता पाने के लिए यूरोप की सबसे अच्छी जगह माना जाता है, उच्च गुणवत्ता के निवेश करने में सहायता करता है। ब्रिटेन में और दुनिया भर के ब्रिटिश दूतावासों तथा अन्य राजनयिक कार्यालयों में विशेषज्ञों के अपने व्यापक नेटवर्क के जरिए यूकेटीआई द्वारा विशेषज्ञता और संपर्क उपलब्ध कराई जाती है। हम कंपनियों को वे साधन उपलब्ध कराए जाते हैं जिनकी आवश्यकता उन्हें विश्व मंच पर प्रतिस्पर्धा करने में पड़ती है।

भारत वैश्विक निवेशकों के लिए सबसे आकर्षक निवेश गंतव्य, ब्रिटेन के साथ मुक्त व्यापार समझौता जल्दः गोयल

India TV Paisa Desk

Edited By: India TV Paisa Desk
Published on: September 06, 2022 15:38 IST

piyush goyal- India TV Hindi News

Photo:PTI piyush goyal

Highlights

  • गोयल ने कहा कि भारत सर्वश्रेष्ठ निवेश अवसर देता है
  • चार्टर्ड अकाउंटेंट ‘ब्रांड इंडिया’ के प्रतिनिधि के तौर पर काम करें

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने भारत को सर्वश्रेष्ठ निवेश स्थल बताते हुए कहा कि यह भारत और अमेरिका के पारस्परिक हितों के क्षेत्रों में सहयोग और सरोकार के लिए उपयुक्त समय है। यहां अमेरिका और भारत के उद्योग जगत के अगुआओं को संबोधित करते हुए गोयल ने कहा कि दोनों देश वैश्विक सुरक्षा, स्थिरता और जुझारू आपूर्ति श्रृंखलाओं को बढ़ावा दे सकते हैं। अमेरिका-भारत रणनीतिक साझेदारी फोरम (यूएसआईएसपीएफ) को संबोधित करते हुए उद्योग मंत्री ने कहा, ‘‘भारत-अमेरिकी संबंध से अनेक प्रतिस्पर्धी लाभ मिल सकते हैं। हमारी आपूर्ति श्रृंखला का जुझारुपन, अमेरिका को भारत ने जिस प्रकार की प्रतिभाएं दी हैं और अमेरिका ने भारत को जो निवेश दिए हैं, ये सब कारोबार की दृष्टि से बहुत अच्छा है।’’ गोयल ने कहा कि भारत सर्वश्रेष्ठ निवेश अवसर देता है। उन्होंने कहा, ‘‘इस स्थल को आप छोड़ नहीं सकते। यह अरबों आकांक्षाओं का बाजार है।’’ अमेरिका के कारोबारों को भारत निवेश स्थल में निवेश करने के लिए आमंत्रित करते हुए मंत्री ने कहा कि ‘‘परस्पर हितों के क्षेत्रों में हम सबके के सहयोग के लिए यह समय उपयुक्त है।’’

भारत और अन्य देशों के बीच सेतु बनें सीए

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने यहां भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंट से कहा कि वे ‘ब्रांड इंडिया’ के प्रतिनिधि के तौर पर काम करें और निवेशों को भारत की ओर आकर्षित करने में मदद करें। गोयल ने यहां सोमवार को इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत अगले 30 वर्ष में 30,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। अभी भारत की अर्थव्यवस्था 3300 अरब डॉलर की है। विदेशों में रह रहे भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंट से गोयल ने कहा कि वे भारत में आने वाले निवेश को बढ़ाने में मदद देकर देश की आर्थिक वृद्धि में योगदान दे सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आप अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों को भारत में अपार निवेश अवसरों की जानकारी दे सकते हैं। आप भारत और अमेरिका के साथ-साथ दुनिया के अन्य हिस्सों के बीच सेतु बन सकते हैं।’’ गोयल ने कहा, ‘‘आप ‘ब्रांड इंडिया’ के ‘ब्रांड एम्बसेडर’ बन सकते हैं।’’

रेटिंग: 4.89
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 734
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *