वीडियो समीक्षा

बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं?

बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं?
बिटकॉइन की वैधता पर फैसला करने का मामला उच्चतम न्यायालय में लंबित है। रिजर्व बैंंक बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं? ने बैंकोंं से कहा है कि उनके साथ कारोबार न करें, जो क्रिप्टो करेंसी में सौदे करते हैं, उसके बाद कुछ मामले विभिन्न उच्च न्यायालयों में भी दायर किए गए। बाद में सभी मामलों को उच्चतम न्यायालय भेज दिया गया। इस मसले पर सुनवाई 20 जुलाई को होनी है। इसके अलावा ब्लॉकचेन और क्रिप्टो करेंसी क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठन इंटरनेट ऐंड मोबाइल एसोसिएशन आफ इंडिया ने भी रिजर्व बैंक के प्रतिबंध के खिलाफ सुनवाई की मांग की है। जवाब में उच्चतम न्यायालय ने अगामी मंगलवार को सुनवाई की तिथि तय की है। सरकार से कहा गया है कि इस मामले पर अटार्नी जनरल अपना पक्ष रखें।

बिटकॉइन पर रिपोर्ट को जल्द अंतिम रूप देगी समिति

बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टो करेंसी पर नीति को जल्द ही अंतिम रूप दिया जाएगा। आर्थिक मामलोंं के विभाग (डीईए) के सचिव की अध्यक्षता में बनी समिति जल्द ही अपने रिपोर्ट को अंतिम रूप देगी। उम्मीद की जा रही है कि अगले महीने के पहले पखवाड़े में रिपोर्ट आ जाएगी। भारतीय रिजर्व बैंक ने अपने निर्देश में बैंकों को सभी क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्मों से अपना सौदा खत्म करने के लिए 3 महीने का वक्त दिया था, जो अगले सप्ताह खत्म हो रहा है। क्रिप्टो करेंसी के अनुमति प्राप्त उपयोग को लेकर विभाग ने सुझावों की सूची तैयार की है। इस तरह की डिजिटल संपत्ति की खरीद संभव होगी और इसकी पेशकश कर रहे प्लेटफॉर्मों को अनुमति होगी, बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं? लेकिन सूत्रों ने कहा कि समिति की रिपोर्ट में यह कहा गया है कि यह मुद्रा या लीगल टेंडर नहीं होगा, और इसका इस्तेमाल भुगतान के लिए नहीं किया जा सकेगा। बाद की सिफारिश रिजर्व बैंक के मुताबिक ही है।

बिटकॉइन क्या है पूरी जानकारी हिंदी में (What is Bitcoin information in hindi)

अगर हम बात करे बिटकॉइन की एक सिंपल भाषा में तो ये एक वर्ल्ड वाइड (World Wide) यानि पूरी दुनिया में फेला हुआ एक वर्चुअल (Virtual) और क्रिप्टो करेंसी (Crypto Currency) है जिसका मतलब ये है की ये एक ऐसा पैसा (Money) है जिसे न तो आप देख सकते है और न ही छु सकते है ये एक तरह की डिजिटल करेंसी (Digital Currency) है जिसे आप इन्टरनेट में किसी वॉलेट (Bitcoin Wallet) में सेव करके रखते है और जरुरत पड़ने पर आप इसे इस्तेमाल कर सकते है ये एक तरह पैसा ही होता है जी की रुपया , डॉलर ,पौंड इत्यादि करेंसी होते है सेम ये भी एक करेंसी है बस फरक इतना है की इसे आप छु या फिर देख नहीं सकते , इसकी कीमत हमेशा घटती बढ़ती रहतें है.

bitcoin in hindi

बिटकॉइन का क्या यूज़ है (Use of Bitcoin in Hindi)

  1. बिटकॉइन का इस्तेमाल आप ऑनलाइन चीजों को खरीदने और बेचने के लिए कर सकते है जैसा की हम आप जानते है ये के तरह का पैसा ही इसलिए इससे आप कुछ भी खरीद और बेच सकते है ऑनलाइन
  2. बिटकॉइन(Bitcoin) का इस्तेमाल आप ऑनलाइन इन्वेस्मेंट के लिए कर सकते है अगर आप इन्वेस्ट करने में इंटरेस्ट रखते है और कुछ समय बाद आप अच्छा रीटर्न चाहते है तो आप बिटकॉइन का इस्तेमाल कर सकते है हालाकि ये जरुर नही है बिटकॉइन से आप अच्छा पैसा कम सकते है इससे आपको घाटा भी हो सकता है
  3. बिटकॉइन को आप पैसे में कन्वर्ट करके सीधा अपने बैंक अकाउंट बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं? में भेज सकते है

अगर आप बिटकॉइन की कीमत पता करनी है की फ़िलहाल 1 बिटकॉइन की कीमत कितनी है या फिर आगे चलके आपको जब भी बिटकॉइन की प्राइस पता करनी है चाहे वो डॉलर (Dollar) में हो या फिर रूपये में यानि आईएनआर(INR) तो इसके लिए आपको गूगल में जाके बस सर्च करना 1 bitcoin price in inr तो गूगल आपको बता देगा की फ़िलहाल बिटकॉइन की कीमत कितनी है इंडिया में तो इस तरह आप बिटकॉइन की कीमत का पता लगा सकते है कभी भी.

बिटकॉइन खरीदने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स क्या क्या चाहिए

अगर आप इंडिया में बिटकॉइन खरीदना है तो इसके लिए आपके पास कुछ जरुरी डाक्यूमेंट्स होने चाहिए तभी आप बिटकॉइन को खरीद और बेच सकते है आइये जान लेते है ये जरुर डाक्यूमेंट्स क्या है (important documents for buying and selling bitcoins in india).

  • वोटर आईडी कार्ड (Voter id card)
  • आधार कार्ड (Aadhaar Card)
  • पेन कार्ड (Pan Card)
  • फ़ोन नंबर (Phone Number)
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स (bank account details)

बिटकॉइन को मिली कानूनी मान्यता, El -Salvador करेगा legal payments के तौर पर स्वीकार

Bitcoin (virtual currency) coins

सबसे ज्यादा रिस्की मार्केट की करेंसी, बिटकॉइन (Bitcoin) को आखिरकार दुनिया में मान्यता मिल ही गई. क्रिप्टो की सबसे पुरानी करेंसी बिटकॉइन को मध्य अमेरिकी देश, एल-सल्वाडोर ने बिटकॉइन को कानूनी मान्यता दे दी है. इसी के साथ बिटकॉइन को स्वीकारने वाला एल-सल्वाडोर (El Salvador) दुनिया का पहला देश बन गया है. बता दें कि बिटकॉइन को अस्तित्व में आए 12 साल हो चुके है लेकिन अभी तक किसी देश ने बिटकॉइन को लीगल पेमेंट के तौर पर स्वीकार नहीं किया था लेकिन आज मंगलवार का दिन, बिटकॉइन के लिए सबसे बड़ा साबित हुआ जब उसे एल- सल्वाडोर लीगल पेमेंट के तौर पर स्वीकारने जा रहा है.

चरण 3: अपनी पहचान सत्यापित (verify) करें

अपना केवाईसी विवरण दर्ज करने के बाद, सत्यापन प्रक्रिया शुरू करने के लिए वेरीफाई (verify) बटन पर क्लिक करें। कृपया ध्यान दें कि जमा किए गए दस्तावेज़ केवल आपकी राष्ट्रीयता के अधिकारियों द्वारा जारी किए हुए होने चाहिए।

पुष्टि करें कि आपके केवाईसी सत्यापन को स्वीकार करने के लिए प्रस्तुत किए गए विवरण सटीक हैं। सत्यापन प्रक्रिया में कुछ समय लग सकता है, जिसके बाद आपका खाता ट्रेडिंग के लिए तैयार हो जाएगा। आपके पास बुनियादी (basic) से उन्नत (advanced) सत्यापन मॉडल पर स्विच करने का विकल्प भी होगा।

चरण 5: बिनेंस पी2पी के माध्यम से INR में बिटकॉइन खरीदें

बिनेंस पी2पी (पीयर-टू-पीयर एक्सचेंज) एक ऐसा बाज़ार है जहाँ लोग लगभग किसी भी देश में अपनी शर्तों पर एक-दूसरे के साथ सीधे बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं? क्रिप्टो व्यापार कर सकते हैं। 70 से अधिक फिएट मुद्राओं के साथ, पी2पी मार्केटप्लेस भारतीय निवेशकों के लिए भारतीय रुपये में क्रिप्टोकरेंसी खरीदना और बेचना आसान बनाता है।

मार्केटप्लेस पर जाने के लिए, वॉलेट टैब पर क्लिक करें, और फिर ड्रॉपडाउन मेनू से पी2पी विकल्प पर क्लिक करें। आप यहां क्लिक करके भी मार्केटप्लेस जा सकते हैं।

चरण 6: बिटकॉइन खरीदने के लिए अपनी आवश्यकताओं को भरें

व्यापार करने के लिए क्रिप्टोकुरेंसी के रूप में बीटीसी का चयन करें, और फिर 'खरीदें' विकल्प चुनें। वह राशि दर्ज करें जिसे आप फिएट मुद्रा के रूप में INR के साथ खरीदना चाहते हैं। उस भुगतान विकल्प का चयन करें जिसे आप मौजूद विभिन्न विकल्पों में से चुनना चाहते हैं। बिनेंस द्वारा सत्यापित व्यापारियों की सूची के साथ बिटकॉइन से INR मूल्य और, उनकी न्यूनतम और अधिकतम बिक्री की सीमा के लिए "केवल व्यापारी विज्ञापन दिखाएं" (“only show merchant ads “) विकल्प पर क्लिक करें।

उपयुक्त मर्चेंट का चयन करने के बाद, बीटीसी खरीदें ("BUY BTC") विकल्प पर क्लिक करें और अपनी चयनित फिएट मुद्रा में खरीदारी करने के लिए राशि भरें।

बीटीसी खरीदें ("BUY BTC") पर क्लिक करने के बाद, आपके पास पहले चुने गए भुगतान विकल्प के माध्यम से मर्चेंट को फंड ट्रांसफर करने के लिए 15 मिनट की समय सीमा होगी। भुगतान करें, और फिर "स्थानांतरित, अगला" (“Transferred, NEXT”) पर क्लिक करें।

Bitcoin का मालिक कौन है और बिटकॉइन किस देश की करेंसी है

bitcoin ka malik kaun hai

चलिए जानते है Bitcoin का मालिक कौन बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं? है और बिटकॉइन किस देश की करेंसी है. इसका नाम तो आपने काफी बार सुना होगा जिसमे से बहुत से लोग इसके बारे में भलीभांति जानते भी है परन्तु कुछ लोग इस करेंसी को लेकर काफी कंफ्यूज है उनकों इसके बारे में यह समझ में नहीं आ रहा है की ये असल में है क्या तो आज आपको इससे रिलेटेड सारी जानकारी देंगे.

हर देश की एक अलग जिसे उस देश में खरीददारी के लिए इस्तेमाल किया जाता है लेकिन कुछ ऐसी भी मुद्रा है जिसके जरिये किसी भी देश में लेनदेन कर सकते है ठीक उसी प्रकार बिटकॉइन है बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं? लेकिन यह एक ऐसी मुद्रा है जिसे ना तो हम देख सकते है और ना ही उसे छू सकते है क्योंकि यह एक डिजिटल करेंसी है. जो Peer to Peer सिक्योर नेटवर्क के जरिये लेनदेन किया जाता है.

Bitcoin का मालिक कौन है

बिटकॉइन का ऑथर Satoshi Nakamoto है. वैसे इसका कोई एक व्यक्ति मालिक नहीं है क्योंकि यह एक ओपन सोर्से डीसेण्ट्रलाइज डिजिटल करेंसी है इसे सातोशी का नाम दिया गया है. और यह एक इलेक्ट्रॉनिकली स्टोर रहने वाली मुद्रा है जिसे किसी डिजिटल वॉलेट के माध्यम से स्टोर करके रखा जा सकता है. लोग Bitcoin एक व्यवसाय के रूप में भी इस्तेमाल करते है शुरुआती दिनों में इसका रेट काफी कम था उस समय बहुत से लोगों ने इसमें इन्वेस्ट किया और जब बिटकॉइन के मूल्य में बढ़ोतरी हुई तो लोगों ने इसे सेल करके काफी अच्छा मुनाफा कमाया था.

अब बिटकॉइन का रेट काफी बढ़ चूका है यदि इस समय Bitcoin के मूल्य की बात करे तो भारतीय रुपए में 1 बिटकॉइन का रेट 25,45,947 है. कुछ ऐसी वेबसाइट भी है जिसके जरिये माइनिंग करके बिटकॉइन बनाये जा सकते है ये साइटें कम्प्यूटर पॉवर के जरिये एक ट्रांजैक्शन प्रोसेस करती है जिससे Bitcoin का निर्माण होता है. Bitcoin Mining करने के बाद वॉलेट में भी ले सकते है.

बिटकॉइन किस देश की करेंसी है

इसे बनाने वाले व्यक्ति जापान के नागरिक है परन्तु बिटकॉइन को आमतौर पर किसी एक देश की करेंसी नहीं कहा जा सकता है क्योंकि यह एक डिजिटल करेंसी है और इसे हर कोई व्यक्ति ऑनलाइन खरीद या बेच सकता है या ऑनलाइन इस्तेमाल कर सकता है. Bitcoin की शुरुआत 3 जनवरी 2009 में सातोशी नकामोतो नामक व्यक्ति द्वारा की गई थी. इनका जन्म 5 अप्रैल 1975 को जापान में हुआ था.

आशा करती हूँ की आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी और अब आपको पता चल गया होगा की Bitcoin का मालिक कौन है और बिटकॉइन किस देश की करेंसी है. इसका मुख्य Symbol – ₿ ये है और इसे BTC के नाम से भी जाना जाता है.

नोट: भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बिटकॉइन को अधिकारिक अनुमति नहीं दी है एक प्रेस के जरिये चेतावनी देते हुए कहा है की इसका लेनदेन जोखिम हो सकता है.

रेटिंग: 4.76
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 521
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *